होम » स्वास्थ्य » जीका वायरस क्या है? जीका वायरस के लक्षण और इलाज

जीका वायरस क्या है? जीका वायरस के लक्षण और इलाज

हाल फिलहाल में बहुत ही चर्चित वायरस जीका वायरस के बारे मैं सुनने को मिल रहा है इसलिए आइए जानते हैं जीका वायरस क्या है और जीका वायरस से क्या होता है?

यदि हम कई बीमारियों के कारण को उठाकर देखें तो इनमें से सबसे खतरनाक होता है वायरस से होने वाली बीमारियां क्योंकि इसका इलाज जल्दी नहीं होता है और खतरा काफी गंभीर बना रहता है।

जीका वायरस मच्छर से फैलता है और यह हमारे शरीर के लिए बेहद खतरनाक वायरस है।

आइए देखते हैं जीका वायरस क्या होता है और हम इससे कैसे बच सकते है तथा इसके लक्षण क्या-क्या है?

जीका वायरस क्या है? zika virus kya hai?

जीका वायरस एक मच्छर द्वारा बनाया गया वायरस है जो एडीज मच्छर से फैलती है , यह वही प्रजाति है जो डेंगू और चिकनगुनिया वायरस को प्रसारित करती है।

zika virus kya hai

इस वायरस को पहली बार 1947 मैं युगांडा के एक बंदर में देखा गया, जो बाद में चलकर अफ्रीका और एशियाई देशों में काफी प्रभावित रहा।

यह मच्छर दिन के समय काफी प्रभावी रहता है और यह घर के अंदर और बाहर दोनों वातावरण में रह सकता है।

यह भी पढ़ें: विडाल टेस्ट क्या है पूरी जानकारी

दिन के समय में आपको एडीज मच्छरों से काफी सावधानी बरतनी है जिसे जीका वायरस जैसे खतरनाक वायरस फैला सके।

जीका वायरस से जुड़े हुए तथ्य

यह वायरस का प्रकोप हमने उतना नहीं देखा है जितना कि हमने कोरोना का देखा है लेकिन इसे हल्के में लेना हमारी मूर्खता होगी।

जीका वायरस से जुड़े कुछ तथ्य हैं जो आपको मालूम होनी चाहिए:

  1. जीका वायरस फैलाने वाले मच्छर उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों में अधिक पाए जाते हैं।
  2. इससे संक्रमित होने पर आपको एक हफ्ता तक संक्रमण देखने को मिल सकता है।
  3. अब तक  जीका वायरस का कोई इलाज नहीं निकला है।
  4. खुद को मच्छर से बचाना ही जीका वायरस का रोकथाम है।
  5. जीका वायरस फैलाने वाले मच्छर घर के अंदर और बाहर दोनों वातावरण में रह लेते हैं।

जीका वायरस के लक्षण क्या है

इस वायरस के संक्रमण के लक्षण आपको कम देखने को मिलता है लेकिन यह बहुत खतरनाक हो सकता है।

गर्भवती महिला के लिए यह वायरस अत्यधिक खतरनाक है क्योंकि यह गर्भ में रहने वाले बच्चे को नकारात्मक रूप से प्रभावित करता है।

यदि जीका वायरस आपको होता है तो आपको निम्नलिखित लक्षण देखने को मिल सकते हैं:

  • बुखार
  • जोड़ों का दर्द
  • मांसपेशियों में दर्द
  • उल्टी
  • सिर में दर्द होना
  • आंखों का लाल होना
  • आंखों के पीछे दर्द होना

यदि आपको इस तरह के लक्षण आपके शरीर में देखने को मिल रहा है तो आपको सतर्क रहने की जरूरत है।

यह भी पढ़ें: खांसी कैसे ठीक करें उसके 10 घरेलु उपाय हिंदी में जाने

हालांकि अभी तक इस वायरस से मृत्यु जैसे खतरनाक अवस्थाएं देखने को नहीं मिली है लेकिन फिर भी आपको इससे सतर्क रहने की जरूरत है।

जीका वायरस फैलने के मुख्य कारण

जीका वायरस बहुत जल्दी नहीं फैलता है लेकिन फिर भी कुछ निम्नलिखित कारण है जिससे यह गंभीर रूप से एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति तक फैलता है।

  1. यौन संबंध से
  2. रक्त के आदान-प्रदान से
  3. स्तनपान से
  4. जानवरों के द्वारा

दोस्तों यह थे कुछ मुख्य कारण जिसके वजह से जीका वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति तक फैलता है।

यह भी पढ़ें: ESR टेस्ट क्या होता है पूरी जानकारी

जीका वायरस सबसे अधिक गर्भवती महिलाओं के लिए खतरनाक है क्योंकि यह गर्व में मौजूद बच्चे के मानसिक स्थिति को गंभीर रूप से प्रभावित कर सकता है।

जीका वायरस का इलाज

वैसे तो जीका वायरस का कोई इलाज अभी तक नहीं निकला है लेकिन आप चाहे तो इसके प्रभाव को थोड़े हद तक कम कर सकते हैं।

तरीका जिसका इस्तेमाल जीका वायरस के इलाज के रूप में किया जा सकता है।

  1. विश्राम करें
  2. अधिक से अधिक तरल पदार्थ पिए
  3. आप बुखार और सिर दर्द के लिए टेबलेट भी ले सकते हैं।

इस तरह के कुछ उपायों को करने से आप इसके प्रभाव को कम कर सकते हैं क्योंकि यह फ्लू जैसे लक्षण को दर्शाता है इसलिए आप फ्लू से संबंधित इलाकों को कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें: Test Tube Baby क्या होता है

इसके अलावा आप अपने घर में कीटनाशकों का छिड़काव करवा सकते हैं जिससे कि मच्छर घर में कम होगा और इसका खतरा भी कम होगा।

प्रश्न और उत्तर

जीका वायरस क्या है?

जीका वायरस मच्छर से फैलने वाला एक वायरस है जो फ्लू जैसे लक्षण को दर्शाता है।

जीका वायरस फैलने से कैसे रोके?

जीका वायरस को फैलने से रोकने के लिए आपको घर में विश्राम करना है और मच्छरों से जितना हो सके उतनी दूरी बनाना है।

क्या जीका वायरस का इलाज है?

वर्तमान में जीका वायरस का कोई इलाज नहीं है, लेकिन आप इसके प्रभाव को कम करने के लिए शुरू से संबंधित उपचारों का प्रयोग कर सकते हैं।

जीका वायरस सबसे पहले कहां देखा गया?

जीका वायरस सबसे पहले युगांडा में 1947 को एक बंदर के शरीर में देखा गया।

यह भी पढ़ें:  पतंजलि मेधा वटी के फायदे

निष्कर्ष : जीका वायरस क्या है?

दोस्तों वायरस वायरस होता है वाह छोटा या बड़ा नहीं होता इसलिए आपको इन्हें हल्के में ना लेकर इसके प्रति सावधान रहना है।

हमें आशा है कि आपको हमारी जीका वायरस क्या है और जीका वायरस के लक्षण क्या होता है? के ऊपर यह जानकारी अच्छी लगी होगी।

जानकारी अच्छी लगी हो तो कृपया इसे अपने दोस्तों के साथ नीचे दिए गए फेसबुक और व्हाट्सएप के बटन के माध्यम से शेयर करें।

आप चाहे तो आप हमारे वेबसाइट को सब्सक्राइब भी कर सकते हैं जिससे रोजाना की रोचक जानकारियां आपके फोन में पहुंच जाएगी।

Leave a Comment

error: जानकारी सुरक्षित है