होम » जानकारी » Badam Ka Ped : बादाम का पेड़ कैसा होता है एवं इसे कैसे लगाएं

Badam Ka Ped : बादाम का पेड़ कैसा होता है एवं इसे कैसे लगाएं

दोस्तों आज के इस लेख में हम आपको बताएंगे Badam Ka Ped कैसा होता है और आप भी इसे कैसे अपने बगीचे में आसानी से लगा सकते हैं।

जैसा कि हम सभी जानते हैं बादाम हमारे सेहत के लिए और खासकर हमारे मानसिक स्वास्थ्य के लिए सबसे अच्छा है

Badam Ka Ped Kaisa Hota Hai

badam ka ped

बादाम का पेड़ दिखने में पतला और लंबा होता है इसकी मध्य भाग पतला एवं ऊपरी भाग मोटा होता है।

शुरू में यह हरे रंग की होती है पर बाद में जाकर धीरे-धीरे यह बैग निकलती हो जाती है इसके पत्ते चौड़े एवं हरे होते हैं या ऊंचाई में लगभग 5 से 10 मीटर लंबा होता है,

Badam Ka Ped Kaise Lagaye

बादाम का पेड़ लगाने के लिए आप बादाम के बीज एवं उसके पेड़ का भी आप सीधे उपयोग कर सकते हैं। बादाम के मुख्यता 2 प्रकार होते हैं एक मीठा और एक करवा।

इसलिए आप को एक इस बात का ध्यान रखना है की आप जो बादाम के बीज बो रहे हैं वह मीठा है या कड़वा बादाम है।

badam ka ped kaise hota hai
badam ka ped ki photo

यदि आप बादाम का पेड़ लगाते हैं तो आपको कुछ बातों को ध्यान रखना चाहिए जिससे आपका बादाम का पेड़ अच्छा एवं गाना होगा।

1.बादाम का पेड़ सही जगह पर लगाएं 

बादाम का पेड़ लगाते समय आपको यह ध्यान रखना है कि जहां पर आप बादाम का पेड़ लगा रहे हैं वहां की मिट्टी कैसी है यदि उसकी मिट्टी बादाम उगाने के अनुकूल है तो आपका बादाम अच्छा एवं तीव्र गति से बढ़ेगा

2.बादाम के लिए अनुकूल जलवायु

बादाम के पेड़ के लिए अनुकूल जलवायु 15 से 30 डिग्री सेल्सियस है यदि आप जहां रहते हैं वहां की जलवायु उष्ण है तो बादाम का पेड़ अच्छा लगेगा

3.पर्याप्त मात्रा में पानी देना

यदि आप बादाम का पेड़ लगाते हैं  लेकिन आप उसका देखरेख नहीं करते तो आपका बादाम का पेड़ अच्छी तरह लग नहीं पाएगा इसलिए आपको रोजाना पर्याप्त मात्रा में अपने बादाम के पेड़ में पानी डालना है

4.पर्याप्त मात्रा में धूप का लगना

यदि आप अपने बादाम के पेड़ को जल्दी बढ़ते देखना चाहते हैं तो आपको यह सुनिश्चित करना पड़ेगा कि आपके बादाम के पेड़ में भूख लग रहा है या नहीं यदि पर्याप्त मात्रा में धूप लगेगा तो यह आपके बादाम के पेड़ के लिए अच्छा है

5.कीटनाशक दवाइयों का छिड़काव

पौधों पर कीटनाशक दवाइयों का छिड़काव ना करें नहीं तो आप का पौधा सूख जाएगा और आपकी सारी मेहनत बेकार हो जाएगी इसलिए आप ध्यान रखें कि किसी भी  प्रकार का कीटनाशक दवाइयों का छिड़काव ना हो।

बादाम के पेड़ और पत्ते

Badam Ka Ped की पत्तियों की लंबाई लगभग 8 से 12 सेंटीमीटर तक होती है और इसके फूल सफेद एवं गुलाबी रंग के होते हैं।

वसंत ऋतु आने के बाद बादाम के पेड़ की पत्तियां एवं फल फूल उगने लगते हैं और शरद ऋतु आते-आते यह पूरी तरह से खिल जाती है।

बादाम के पेड़ का फल

Badam Ka Ped का फल लगभग 4 से 5 सेंटीमीटर लंबा होता है। इसके फलों के  बाहरी सतह पर कठोर खोल होता है जो  बादाम को सुरक्षित ढक कर रखता है।  छिलके को अलग करने के बाद उसके अंदर से बादाम को निकाला जाता है  हम लोग बादाम को उसी रूप में खाते हैं।

जैसा कि हम लोगों ने पढ़ा बादाम दो प्रकार के होते हैं एक मीठा और एक कड़वा होता है बाजारों में पाए जाने वाले बादाम के तेल कड़वे  बादाम उसे निकाला जाता है।

बाजारों में पाए जाने वाले बादाम अधिकतर बिना छिलके के ही पाए जाते हैं जिसे बाजारी भाषा में chiniya badam भी कहते हैं यह खाने में मीठा लगता है।

बादाम के पेड़ के फायदे

यदि आप बादाम का पेड़ लगाते हैं तो इसके बहुत सारे फायदे हैं जिससे आपको काफी हद तक लाभ पहुंचेगा इसके फायदे निम्नलिखित है

  1. यदि बादाम का पेड़ आपके बगीचे में लगा हुआ है तो यह वायु को साफ एवं आपको ऑक्सीजन प्रदान करेगा जो लंबी आयु के लिए आपकी सहायता करेगी फुल
  2. बादाम में ढेर सारे मिनरल्स एवं न्यूट्रिशंस पाए जाते हैं जो कि हमारे सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद है। जैसे विटामिन ई कैल्शियम फास्फोरस प्रोटीन विटामिन डी आदि
  3. अगर हम लोग बादाम को थोड़े समय  के लिए पानी में भिगो कर खाते हैं तो या हमारे पाचन तंत्र को बहुत मजबूत बनाता है और हमें स्वस्थ रखता है।
  4. इसमें बहुत सारी  एंटीऑक्सीडेंट मिनिरल्स पाया जाता है जो कि हॉट से जुड़ी साड़ी खतरनाक बीमारियों को दूर रखने में हमारी सहायता करता है
  5. बादाम में विटामिन होने के कारण या हमारी त्वचा के लिए एंटी एजिंग का काम करता है जो हमारी त्वचा को कोमल  बनाए रखने में हमारी सहायता करता है
  6. मीठा बादाम खाने से आपकी याददाश्त की क्षमता बढ़ती है और आप किसी भी चीज को Jaldi Yaad Karne में मदद मिलती है। छात्र छात्राओं के लिए बादाम का सेवन बहुत अच्छा होता है।

बादाम के पेड़ के नुकसान

  1. बहुत अधिक बादाम के सेवन से आपके पाचन तंत्र पर असर पड़ेगा और आप कॉन्स्टिपेशन के शिकार हो जाएंगे इसलिए निश्चित मात्रा में ही बादाम का सेवन करें।
  2. बादाम के अंदर बहुत अधिक मात्रा में फाइबर पाए जाते हैं जो आपके शरीर में न्यूट्रिशंस को सोख लेता है यदि आप ज्यादा मात्रा में बादाम का सेवन करेंगे तो आप कुपोषण के शिकार हो सकते हैं।
  3. बहुत अधिक बादाम के सेवन से आपके किडनी में पत्थर हो सकता है इसलिए सुनिश्चित मात्रा में बादाम का सेवन करें।
  4. बादाम में विटामिन ई की मात्रा बहुत अधिक होती है इसलिए यदि आप अधिक बादाम का सेवन करते हैं तो आपके शरीर में विटामिन ई की मात्रा बढ़ जाएगी  जिससे आपके शरीर में  विटामिंस असंतुलित हो  जाएगी।
  5. बादाम अधिक खा लेने से आपको एलर्जी भी हो सकती है इसलिए बादाम निश्चित मात्रा में ही सेवन करें।

निष्कर्ष : Badam Ka Ped

बादाम के पेड़ को शास्त्रों में बहुत अच्छा माना गया है यदि आप बादाम के पेड़ों को अपने बगीचे में लगाते हैं तो यह आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा होगा बस आपको इतना ध्यान रखना है कि आप जब बादाम का सेवन करें तो वह निश्चित मात्रा में ही करें जिससे आपका स्वास्थ्य  अच्छा और पुष्ट होगा

यदि आपको हमारी यह जानकारी अच्छी लगी हो तो आप हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अपने परिवार जनों के साथ हमारे इस लेख को शेयर करें जिससे सभी को बादाम के फायदे के बारे में पता चल सके। 

प्रश्न और उत्तर : Badam Ka Ped

Badam ka ped kitna bada hota hai?

बादाम का पेड़ लगभग 10 से 12 फुट का होता है जिस की तना साफ़ साफ़ दिखाई देती है इस के दाल लचीले होते हैं।

Badam ka ped shubh ya ashubh?

बादाम के पेड़ को सस्त्रो में भी अच्छा माना गया है और यदि यह आप के बगीचे में है तो यह आप को निश्चित रूप से लाभ देगा।

Badam ka ped kaise hota hai?

बादाम का पेड़ दिखने में पतला और लंबा होता है इसकी मध्य भाग पतला एवं ऊपरी भाग मोटा होता है। शुरू में यह हरे रंग की होती है पर बाद में जाकर धीरे-धीरे यह बैग निकलती हो जाती है इसके पत्ते चौड़े एवं हरे होते हैं या ऊंचाई में लगभग 5 से 10 मीटर लंबा होता है

Leave a Comment

error: जानकारी सुरक्षित है