होम » जानकारी » जनसंचार क्या है और इसके प्रमुख माध्यम कौन-कौन से हैं इसके लाभ और हानि

जनसंचार क्या है और इसके प्रमुख माध्यम कौन-कौन से हैं इसके लाभ और हानि

जनसंचार क्या है यह यह जानने के लिए आपको इसकी विशेषताओं को जानना होगा, जनसंचार की सभी महत्वपूर्ण जानकारियां इस प्रकार से है।

jansanchar kya hai

हाल ही में कोरोनावायरस जैसे हालात में जनसंचार ने एक बहुत बड़ी मुख्य भूमिका निभाई।

आइए एक एक करके जानते हैं, जनसंचार हमारे लिए इतना आवश्यक क्यों बन गया है और यह मानव जीवन पर कितना प्रभाव डालता है।

जनसंचार की परिभाषा क्या है

जनसंचार उस प्रक्रिया को संदर्भित करता है जिसके द्वारा एक व्यक्ति या लोगों का समूह या कोई संगठन संचार के माध्यम से एक संदेश को बड़ी संख्या में गुमनाम और विषम व्यक्तियों और संगठनों तक पहुंचाता है।

विषम और गुमनाम लोगों के एक बड़े समूह को या तो सामान्य आबादी या सामान्य आबादी का एक हिस्सा माना जा सकता है। प्रसारण टेलीविजन, रेडियो, सामाजिक नेटवर्क और प्रिंट संचार के सभी माध्यम हैं।

आमतौर पर, संदेश भेजने वाला एक पेशेवर संचारक होगा जो अक्सर एक संगठन का प्रतिनिधित्व करता है। जनसंचार महंगा हो सकता है। पारस्परिक संचार की तुलना में जन संचार अधिक महंगा हो सकता है क्योंकि प्रतिक्रिया अक्सर धीमी और अप्रत्यक्ष होती है।

जनसंचार के प्रमुख माध्यम कौन से हैं

  • रेडियो – पारंपरिक रेडियो।
  • वीडियो – टेलीविजन, फिल्में, प्रचार वीडियो, विज्ञापन और वीडियो साझा करने वाली वेबसाइटें।
  • प्रकाशन – पत्रिकाएँ, समाचार पत्र, ब्लॉग और शोध पत्र, सोशल मीडिया एप्लीकेशन
  • पब्लिक स्पीकिंग – लोगों से सीधे बात करना, वीडियो और ग्राफिक्स जैसे दृश्य एड्स के साथ किया जाता है। 
  • कला और संगीत – सार्वजनिक और संगीत प्रदर्शनों में प्रदर्शित कला।

जनसंचार की उपयोगिता एवं महत्व क्या है

मानव जीवन के विकास के लिए जनसंचार एक संजीवनी बूटी बनकर उभरा है इसके बिना हमारे जीवन का विकास लगभग असंभव था।

jansanchar kya hai

आइए जानते हैं मानव जीवन में जनसंचार की उपयोगिता एवं महत्व क्या है जो इसे इतना खास एवं महत्वपूर्ण बनाती है।

1. लोगों को सूचित करना

जनसंचार का एक प्राथमिक उद्देश्य है: जनता तक सूचना का संचार करना।

जनसंचार के बारे में जानकारी शिक्षा और मौसम के साथ-साथ उत्पादों और सेवाओं से संबंधित हो सकती है।

2. जनमत का निर्माण

जनसंचार का भी महत्वपूर्ण लक्ष्य राष्ट्रीय या अंतरराष्ट्रीय किसी भी मुद्दे पर जनमत तैयार करना है।

मास मीडिया अपने दर्शकों को दुनिया के बारे में एक यथार्थवादी दृष्टिकोण, नेताओं की गतिविधियों और सरकारी नीतियों को लेकर जनमत बनाने की कोशिश कर रहा है। 

जनमत बनाने के लिए मास मीडिया द्वारा विशेष लेख, संपादकीय और टिप्पणियों का भी उपयोग किया जाता है।

3. लोगों को मनाना

जनसंचार लोगों को मनाने के लिए जैसे धूम्रपान, मतदान, धार्मिक प्रतिबद्धता या दान दहेज संस्कृति, और अन्य विषयों जैसे मुद्दों, की एक किस्म पर अपने विचार, विश्वासों, नजरिए और सोच को बदलने के लिए करना है।

व्यवसाय संभावित ग्राहकों को समझाने के लिए विज्ञापन भी बनाते हैं।

4. सरकारी नीतियां प्रसारित करना

जनसंचार सरकारी नीतियों और कार्यक्रमों को वितरित करने के उद्देश्य से भी कार्य करता है। इन नीतियों को जनसंचार माध्यमों के माध्यम से शीघ्रता से जनता के ध्यान में लाया जा सकता है।

5. स्वास्थ्य और शिक्षा कार्यक्रमों का प्रसार करना

सरकार टीकाकरण, जन्म नियंत्रण, स्वच्छता, खुली शिक्षा, जन-शिक्षा आदि सहित विभिन्न शैक्षिक और स्वास्थ्य कार्यक्रमों की पेशकश करती है। शिक्षा और स्वास्थ्य के

लिए ये कार्यक्रम रेडियो, टेलीविजन और समाचार पत्रों जैसे जन माध्यमों के माध्यम से वितरित और कार्यान्वित किए जाते हैं।

6. मनोरंजन और आनंद प्रदान करना

मास मीडिया एक अद्भुत स्रोत हो सकता है। लगभग सभी मास मीडिया में एक मनोरंजन घटक शामिल होता है। रेडियो और टेलीविजन विभिन्न प्रकार के कार्यक्रमों की पेशकश करते हैं जिनका बड़े पैमाने पर दर्शकों द्वारा आनंद लिया जा सकता है।

पत्रकार और समाचार पत्र साहित्यिक और सांस्कृतिक कार्यक्रमों, कहानियों और खेलों के बारे में लेख प्रकाशित करते हैं। ये लेख पाठकों के लिए मनोरंजन भी प्रदान करते हैं।

7. सामाजिक संपर्क और जुड़ाव स्थापित करना

जनसंचार विभिन्न जातियों, जनजातियों और समुदायों के बीच सामाजिक संपर्क स्थापित करने और बनाए रखने का भी प्रयास करता है। मास मीडिया ज्ञान और अनुभवों के आदान-प्रदान के माध्यम से सामाजिक संपर्क और जुड़ाव को बढ़ावा देता है।

उदाहरण के लिए:

कुछ चिकित्सा स्थितियों या कुछ सामाजिक गतिविधियों के लिए धन जुटाने का अभियान सामाजिक बंधन और सहानुभूति को प्रोत्साहित करता है।

8. आपदा और विपदा का सामना करने में सहायता

जनसंचार प्रकृति और मानव निर्मित आपदाओं जैसे बाढ़, भूकंप या युद्ध के बारे में जन जागरूकता बढ़ाने में भी मदद करता है। सही साहस और ऊर्जा के साथ।

मास मीडिया लोगों को आवश्यक निर्देश, रणनीति और कार्यक्रम प्राप्त करके अपनी तैयारी में सक्रिय होने की अनुमति देता है।

9. राजनयिक भूमिका पर प्रकाश

इस वैश्वीकृत दुनिया में हर देश चाहता है कि अंतरराष्ट्रीय शांति स्थापना और विकास में उसकी भूमिका के लिए उसे पहचाना जाए। इस कूटनीति भूमिका को मास मीडिया के माध्यम से आसानी से प्रसारित किया जा सकता है।

10. राजनीतिक विचारधाराओं का प्रचार

को बढ़ावा देना अपनी विचारधाराओं और योजनाओं के साथ-साथ कार्यक्रमों और घोषणा पत्रों को बढ़ावा देने के लिए, राजनीतिक दल मास मीडिया पर बहुत अधिक भरोसा करते हैं। वे जनमत को प्रभावित करने के लिए मास मीडिया का उपयोग करते हैं।

हम देख सकते हैं कि जनसंचार कई उद्देश्यों को पूरा करता है। अलग-अलग संदेशों के अलग-अलग लक्ष्य होते हैं।

हालांकि, जनसंचार मुख्य रूप से समाज के सभी सदस्यों की भलाई सुनिश्चित करने से संबंधित है।

आधुनिक जनसंचार के लाभ और हानि क्या है

यदि हम विस्तृत रूप से देखें तो आधुनिक जनसंचार के कई लाभ देखने को मिलते हैं लेकिन इसके अलावा भी जनसंचार के कुछ नुकसान भी है।

नीचे हमने जनसंचार के लाभ और हानि को संक्षेप में समझाया है।

आधुनिक जनसंचार के लाभ क्या है

1. यह शिक्षित करता है। लोग रेडियो और टेलीविजन कार्यक्रमों के माध्यम से पर्यावरण संरक्षण और स्वास्थ्य के मुद्दों के बारे में अधिक जान सकते हैं।

2. ताजा खबर बहुत कम समय में उपलब्ध होती है। दूरी कोई बाधा नहीं है। मीडिया हर दिन लोगों को समाचार प्रदान करता है और उन्हें दुनिया की नवीनतम घटनाओं से अवगत कराता है।

3. आप अपनी छुपी हुई प्रतिभा को बाहर आने दे सकते हैं। वे अभिनय, गायन और कॉमेडी जैसे मीडिया के माध्यम से अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर सकते हैं।

4. बच्चों का ज्ञान बढ़ता है। प्रश्नोत्तरी कार्यक्रम, पशु कार्यक्रम और अन्य कार्यक्रम बच्चों को सीखने में मदद कर सकते हैं।

5. रेडियो सुविधाजनक है क्योंकि लोगों को त्वरित समाचार मिलते हैं, और कोई भी इसे स्मार्टफोन से एक्सेस कर सकता है।

6. यह जन-उपभोक्ता उत्पादों को बढ़ावा देने का एक शानदार तरीका है। इससे उत्पाद की बिक्री बढ़ सकती है।

7. यह मनोरंजन का एक बड़ा स्रोत है। संगीत और टीवी कार्यक्रम आपका मनोरंजन करने का एक शानदार तरीका है।

8. 8. टेलीविजन सूचना के इलेक्ट्रॉनिक दोहराव की अनुमति देता है। यह कम उत्पादन लागत पर बड़े पैमाने पर शिक्षा को संभव बनाता है।

9. मीडिया विविध संस्कृतियों के प्रसार की सुविधा प्रदान करता है। मीडिया विभिन्न सांस्कृतिक प्रथाओं को प्रदर्शित करता है।

10. यह दुनिया भर के लोगों को एक साथ आने और उनके मतभेदों को स्वीकार करने में मदद करता है।

आधुनिक जनसंचार के हानि क्या है

1. यह व्यक्तिवाद की ओर ले जाता है। परिवार, दोस्तों और पड़ोसियों के साथ समाजीकरण नकारात्मक रूप से प्रभावित होता है।

2. कुछ मीडिया सामग्री बच्चों के लिए उपयुक्त नहीं है। बच्चों की पहुंच को सीमित करना मुश्किल हो सकता है।

3. समाचार पत्रों का भौगोलिक रूप से चयन किया जाता है।

4. रेडियो और टेलीविजन पर विज्ञापन उनकी अपील कम कर रहे हैं।

5. इंटरनेट मीडिया धोखाधड़ी, धोखेबाज और हैकिंग के कई अवसर प्रदान करता है।

6. व्यसन मीडिया के साथ हो सकता है, उदाहरण के लिए कुछ टेलीविजन कार्यक्रम और इंटरनेट व्यसनी हो सकते हैं। इससे उत्पादकता में कमी आ सकती है।

7. स्वास्थ्य समस्याएं। लंबे समय तक टीवी देखने से आंखों की समस्या हो सकती है। इयरफ़ोन के साथ रेडियो सुनने से भी सुनवाई हानि हो सकती है।

8. यह शराब और नशीले पदार्थों का महिमामंडन करता है।

9. इससे व्यक्तिगत चोट लग सकती है। लोग मीडिया स्टंट के उदाहरणों का अनुसरण कर सकते हैं। इससे चोट लग सकती है।

10. इससे आपकी प्रतिष्ठा को नुकसान हो सकता है। एक अनाम खाता बनाया जा सकता है। इन खातों का उपयोग दुर्भावनापूर्ण उद्देश्यों के लिए किया जा सकता है, जैसे कि अफवाह फैलाना। इससे कंपनी की साख खराब हो सकती है।

प्रश्न और उत्तर

जनसंचार किसे कहते है?

किसी व्यक्ति के समूह या क्षेत्र को कोई सूचना पहुंचाने के लिए जनसंचार का उपयोग किया जाता है जैसे टीवी रेडियो इत्यादि इसे ही हम जनसंचार कहते हैं।

जनसंचार का प्रमुख माध्यम कौन सा है?

जनसंचार का प्रमुख माध्यम टीवी रेडियो और इंटरनेट है जिसका इस्तेमाल प्रमुख रूप से जनसंचार के माध्यम में इस्तेमाल किया जाता है।

जनसंचार क्यों जरूरी है?

जनसंचार मानव विकास के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है इसका उपयोग हमारे दैनिक जीवन से सीधे जुड़ा हुआ है, इसके बिना हमारा विकास असंभव है?

दूरदर्शन जनसंचार का प्रमुख साधन हुआ करता था क्यों?

जनसंचार में दूरदर्शन मुख्य साधन हुआ करता था क्योंकि पुराने समय में दूरदर्शन के अलावा हमारे भारत देश में कोई और चैनल नहीं थी जो हमें समाचार प्रसारित कर पाती। 

यह भी पढ़े:

निष्कर्ष : जनसंचार क्या है

जनसंचार मानव विकास में बहुत बड़ी भूमिका निभाती है अभी के समय में जो बड़े-बड़े देश हैं उनमें जनसंचार की सुविधा बहुत पहले ही आ गई थी।

जितना अच्छा आपका जनसंचार माध्यम रहेगा उतना ही लोगों में एकजुटता आएगी और हम तेजी से अपने देश का विकास कर पाएंगे।

दोस्तों आपको हमारी जनसंचार क्या है यह जानकारी कैसी लगी हमें नीचे कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

यदि आप भी अपने दोस्तों तक इस जानकारी को पहुंचाना चाहते हैं तो आप नीचे फेसबुक और व्हाट्सएप के बटन के माध्यम से इस जानकारी को शेयर कर सकते हैं।

Leave a Comment

error: जानकारी सुरक्षित है