होम » शिक्षा » Graduation और Post Graduate Kya Hota Hai

Graduation और Post Graduate Kya Hota Hai

दोस्तों आज हम लोग बात करेंगे Graduation Kya Hota Hai इसके बारे में बहुत से स्टूडेंट्स और लोगों को पूरी जानकारी नहीं है। इसलिए आज हम लोग ग्रेजुएशन क्या होता है और Post Graduation Kya Hota Hai इसकी पूरी जानकारी हम आप लोगों को देंगे।

राज्य सरकार और केंद्र सरकार आए दिन विभिन्न प्रकार की नौकरियां निकाल रही है, इसमें बहुत सी ऐसी नौकरियां है जिसमें आपके पास Graduation Ki Degree होनी बहुत जरूरी है।

इन सभी नौकरियों का फॉर्म भरने के लिए आपको ग्रेजुएशन करना होगा। हम आपको विस्तृत रूप में बताएंगे कि Graduation Ka Matlab Kya Hota Hai और यदि आप ग्रेजुएशन करेंगे तो Graduation Mein Kya Hota Hai इसकी जानकारी आपको होनी चाहिए।

यदि आप अपने भविष्य को लेकर बहुत सावधान है तो आपको ग्रेजुएशन क्या होता है इसकी पूरी जानकारी होनी चाहिए। जिससे आप अपना लक्ष्य निर्धारित कर सकें। संसार में सभी व्यक्ति अपना भविष्य बेहतर बनाना चाहता है इसके लिए सरकारी नौकरी एक अच्छा विकल्प है।

Graduation Kya Hota Hai

12वीं पास करने के बाद किसी निर्धारित विषय पर 3 साल तक अध्ययन करने के बाद जो उपाधि हमें मिलती है उसे हम ग्रेजुएशन या बैचलर की डिग्री कहते हैं।

इसमें विभिन्न प्रकार की विषय में आती हैं जैसे बीए, बीएससी, बिग कॉम, बीटेक,बी सी ए इत्यादि डिग्री को भी ग्रेजुएशन कहते हैं।

ग्रेजुएशन को स्नातक, बैचलर डिग्री, पूर्व स्नातक के नामों से भी पुकारा जाता है। बहुत से लोग यह भी जानना चाहते हैं की Graduation Ka Hindi Kya Hota Hai तो हम उन छात्र छात्राओं को यह बताना चाहते हैं की ग्रेजुएशन को हिंदी में प्रमुख रूप से “ स्नातक की डिग्री” कहा जाता है।

ग्रेजुएशन में मुख्यता तीन विषयों को लेकर चलना होता है जिनमें से सिर्फ एक प्रमुख विषय होता है और बाकी के दो अलग से जुड़े रहते हैं। मुख्य विषय के दो भाग होते हैं जिन्हें ग्रेजुएशन में हमें अध्ययन करना पड़ता है।

Graduation Mein Kya Hota Hai

बहुत से लोग अलग-अलग क्षेत्र में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं, उनके लिए ग्रेजुएशन में अलग-अलग विषयों का चुनाव करना बहुत जरूरी हो जाता है। जैसा कि 12वीं कक्षा में 3 अलग-अलग क्षेत्र होते हैं जैसे साइंस, कॉमर्स, आर्ट आगे चलकर यही तीनों बीएससी, बीकॉम, बीए बन जाते हैं।

graduation mein kya hota hai

हालांकि इन्हीं क्षेत्रों में कुछ खास कोशिश है जिसे करने से भी हमें ग्रेजुएशन की डिग्री मिल जाती है। नीचे हमने कुछ कोर्सेज के नाम भी रखे हैं जिसे करने से आपको कौन सी डिग्री मिलेगी और आप किस क्षेत्र में इसे इस्तेमाल कर सकते है।

ग्रेजुएशन कोर्स के नामडिग्रीक्षेत्र 
Bachelor Of ArtsBaकला
Bachelor Of Of CommerceBcomवाणिज्य
Bachelor Of ScienceBscविज्ञान
Ba Plus Bachelor Of LawBa LLBकला
Bachelor Of Computer ApplicationBCAविज्ञान
Bachelor Of DesignB.desकला
Bachelor Of TechnologyB.Techविज्ञान
Bachelor Of Computer ScienceBcaविज्ञान
Bachelor Of Of EngineerB.Eविज्ञान
Bachelor Of ArchitectureB.Archविज्ञान
Bachelor Of Hotel ManagementDhmवाणिज्य
Bachelor Of Dental SurgeryB.Dfविज्ञान
Bachelor Of Fine ArtB.faकला
Bachelor Of Business AdministrationB.baवाणिज्य
Bachelor Of MedicinesMBBSविज्ञान 

इस चार्ट मैं आप देख सकते हैं कि कौन-कौन सी Graduation Ka De Degree Kya Hai और यह सारी डिग्रियां कौन सी क्षेत्र से जुड़ी हुई है। इसके जरिए आप अपने पसंदीदा क्षेत्र में अपनी डिग्री देख सकते हैं।

यहां सिर्फ मैंने कुछ ग्रेजुएशन कोर्स के नाम बताए हैं जो भारत में बहुत लोकप्रिय हैं। इसके अलावा भी बहुत से ऐसे कोर्स हैं जो अलग-अलग शिक्षा संस्थानों द्वारा कराई जाती है। जिसे करने से आपको ग्रेजुएशन का डिग्री मिल जाएगा।

यदि आप इन सारे कोर्स के बारे में विस्तृत रूप से जानना चाहते हैं तो आप इन कोर्स इसको कराने वाले प्रमुख संस्थानों के ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर जानकारी पा सकते हैं।

Graduation Ka Hindi Kya Hota Hai मैं आपको बता देता हूं ग्रेजुएशन का Hindi Matlab “ स्नातक स्तर की पढ़ाई या अध्ययन” को ही ग्रेजुएशन कहते हैं।

ग्रेजुएशन के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए

किसी भी छात्र छात्रा के ग्रेजुएशन करने के लिए कम से कम 12वीं कक्षा पास होना जरूरी है। ताकि छात्र छात्राएं जिस Stream से उन्होंने 12वीं पास किया है उसकी अनुसार अपने आगे का कोर्स चुन सकते हैं।

जो कोर्स आप चुने उसके हिसाब से बेहतर यूनिवर्सिटी का चुनाव करें ताकि आप का अध्ययन अच्छी तरह से हो पाए। इस दौरान आपको बहुत से ऐसे यूनिवर्सिटी मिलेंगे जो ग्रेजुएशन कराता है पर आपको उनमें से भी बेहतर यूनिवर्सिटीज का चुनाव करना है।

कुछ खास ग्रेजुएशन कोर्स जो 12वीं के बाद होता है जैसे B Tech, B.E , Bca आदि करने के लिए आपको IIT या Jee Mains की परीक्षा देकर इन सभी कोर्सो में अपना नाम लिखवा सकते हैं। इसके अलावा आप डिप्लोमा करके भी बीटेक कर सकते हैं।

बहुत सारी बड़ी-बड़ी यूनिवर्सिटी में ग्रेजुएशन कोर्स में नाम लिखाने के परीक्षा लिया जाता है और बहुत सारी ऐसी प्राइवेट यूनिवर्सिटीज है। जहां आप बड़ी रकम देकर भी यह सभी ग्रेजुएशन कोर्स कर सकते हैं।

ग्रेजुएशन कैसे करें

ग्रेजुएशन करने के लिए आपको कुछ खास करने की जरूरत नहीं है। अगर आपने 12वीं कक्षा में अच्छे नंबरों से पास कर लिया है तो आप किसी भी सरकारी कॉलेज, यूनिवर्सिटी अथवा ओपन संस्थान से भी ग्रेजुएशन आसानी से कर सकते हैं। यहां मैंने जो अच्छे नंबर का जिक्र किया है, वह इसलिए कि यदि आप अच्छे नंबर लाते हैं ।

तो आप किसी भी ग्रेजुएशन कोर्स में आसानी से नाम लिखा सकते हैं क्योंकि बहुत सारे ऐसे ग्रेजुएशन के कोर्स हैं जिनमें आपको परीक्षा देकर दाखिला लेना होता है और उनकी कुछ नियम भी होते हैं जहां आप को आप की 12वीं की रिजल्ट में निश्चित परसेंट में नंबर होना चाहिए।

यदि आप किसी बड़े प्राइवेट कॉलेज या विश्वविद्यालय सी ग्रेजुएशन करना चाहते हैं तो इसके लिए आप यह फॉलो कर सकते हैं।

  1. यूनिवर्सिटी में एडमिशन लेने के लिए आपको 12वीं कक्षा में बहुत अच्छे नंबर का होना बहुत जरूरी है क्योंकि बिना अच्छे नंबरों के आप टॉप यूनिवर्सिटी कॉलेज में एडमिशन नहीं ले सकते।
  2. यदि आप 12वीं के बाद बीटेक करना चाहते हैं तो 12वीं कक्षा में गणित, भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान में 75% से ज्यादा अंक लाना जरूरी है जिससे आप Jee Main का परीक्षा दे पाएंगे।
  3. बड़ी प्राइवेट कॉलेजों में भी एडमिशन के लिए आपको 12वीं कक्षा में 60% से ज्यादा नंबर चाहिए।
  4. इसके अलावा अन्य ग्रेजुएशन कोर्स को करने के लिए आप साधारण सरकारी कॉलेजों से भी ग्रेजुएशन कर सकते हैं।
  5. जो छात्र ग्रेजुएशन में एलएलबी करना चाहते हैं वह Law कॉलेज में अपना एडमिशन करा ले।

जो बच्चे 12वीं कक्षा में कला के क्षेत्र से जुड़े हुए हैं वह आगे चल कर ग्रेजुएशन में B.A. करते हैं। साइंस वाले बीएससी और बीटेक कर सकते हैं और वाणिज्य से जुड़े हुए छात्र बीकॉम कर सकते हैं।

इसके अलावा बहुत से ऐसे कोर्स हैं जो किए जा सकते हैं जैसे डिजाइनिंग,हॉस्पिटैलिटी आदि का कोर्स कर सकते है।

महत्वपूर्ण: 12वीं कक्षा में विज्ञान से जुड़े हुए छात्र बी टेक, बीएससी, बी कॉम, बीए यह सभी में एडमिशन करा सकते हैं जबकि कला वर्ग वाले बीएससी नहीं कर सकते। विज्ञान अध्ययन में ऊंचा माना जाता है।

Post Graduate Kya Hota Hai

जैसा की आप लोगों ने जान लिया है कि Graduate Kya Hota Hai अब हम आपको बताते हैं कि Post Graduate Kya Hota Hai तो दोस्तों पोस्ट ग्रेजुएशन सीधे तौर पर ग्रेजुएशन मैं जिस विषय पर आप ने पढ़ाई की है उसी विषय को ग्रेजुएशन के बाद 2 साल पढ़ने को ही पोस्ट ग्रेजुएशन कहते हैं और यह केवल किसी एक विषय पर ही होता है।

post graduate kya hota hai

पोस्ट ग्रेजुएशन करने के लिए आपके पास ग्रेजुएशन का डिग्री होना अनिवार्य है इसके बिना आप पोस्ट ग्रेजुएशन नहीं कर सकते या कोई और माध्यम है ही नहीं जिसके जरिए आप सीधे Post Graduate कर सके।

पोस्ट ग्रेजुएशन करने के बाद आपके डिग्री में बैचलर की जगह मास्टर लग जाता है क्योंकि जिस विषय को आप ग्रेजुएशन में पढ़ते हैं उस विषय को पोस्ट ग्रेजुएशन में और पढ़ कर मास ट्री कर लेते हैं। जिससे आपको मास्टरी की डिग्री मिल जाती है। ग्रेजुएशन के बाद उच्च शिक्षा को ही पोस्ट ग्रेजुएशन कहां जाता है।

 ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन में अंतर नीचे दिए गए टेबल से आप समझ सकते हैं

ग्रेजुएशन की डिग्रीपोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्री
Ba AMa
BscMsc
BcomM Com
B TechM Tech
BbaMba
BcaMca 

ऊपर दी गई तालिका में ग्रेजुएशन की डिग्री ओं के नाम और Post Graduate की डिग्रीओं के नाम हैं। जिसे देखकर आप समझ सकते हैं कि दोनों में क्या अंतर है यदि आप ग्रेजुएशन के बाद उच्च स्तर की पढ़ाई करते हैं तो आपके डिग्री में “M” लग जाता है।

ग्रेजुएशन करना क्यों जरूरी है

वर्तमान ग्रेजुएशन की डिग्री होना अत्यंत आवश्यक है क्योंकि इसके बिना आप बहुत सी ऐसी सरकारी नौकरियां है जिसमें आप आवेदन नहीं कर सकते हैं। और यदि आप प्राइवेट जॉब भी करना चाहते हैं उसमें भी आपको ग्रेजुएशन की डिग्री अनिवार्य है।

 ग्रेजुएशन करना क्यों जरूरी है कुछ कारण हमने नीचे दे रखा है।

  1. स्नातक कर लेने से आपको बहुत सारी नौकरियों पानी का अवसर मिल जाता है जिनमें से प्राइवेट और सरकारी दोनों हैं।
  2. ग्रेजुएशन करने से आपको खास विषयों पर अच्छा ज्ञान हो जाता है।
  3. Post Graduate करने के लिए ग्रेजुएशन का डिग्री होना बहुत जरूरी है।
  4. ग्रेजुएशन के बाद आप B.Ed कर के सरकारी स्कूलों में शिक्षक का कार्य कर सकते हैं।
  5. ग्रेजुएशन की डिग्री यदि आपके पास है तो अच्छी सैलरी वाला जॉब आपको आसानी से मिल जाएगा।
  6. प्राइवेट जॉब में आपके ग्रेजुएशन की डिग्री देखकर ही सैलरी दी जाती है।
  7. इसके अलावा भी बहुत सारे ऐसे कारण है जिसके लिए आपको ग्रेजुएशन करना चाहिए।

बहुत से छात्र-छात्राएं स्कूली शिक्षा पूरा करने के बाद ग्रेजुएशन करना महत्वपूर्ण नहीं समझते हैं और इसमें नाम लिखा कर एक से दूसरे साल में ही छोड़ देते हैं।

लेकिन अभी के समय में सभी छात्रों को यह समझना जरूरी है कि ग्रेजुएशन हमारी मौलिक शिक्षा बन गई है। इसलिए ग्रेजुएशन को करना अत्यंत आवश्यक है।

प्रश्न और उत्तर

ग्रेजुएशन क्या होता है?

12वीं पास करने के बाद किसी निर्धारित विषय पर 3 साल तक अध्ययन करने के बाद जो उपाधि हमें मिलती है उसे हम ग्रेजुएशन या बैचलर की डिग्री कहते हैं।

ग्रेजुएशन का हिंदी क्या होता है?

ग्रेजुएशन का Hindi Matlab “ स्नातक स्तर की पढ़ाई या अध्ययन” को ही ग्रेजुएशन कहते हैं।

निष्कर्ष

छात्र एवं छात्राओं आशा करता हूं आपको हमारी यह Graduation Kya Hota Hai जानकारी आपको अच्छी लगी होगी यदि आपको यह जानकारी अच्छी लगी तो नीचे कमेंट बॉक्स में हमें लिखकर बताएं। यदि आपके मन में इसके अतिरिक्त और भी सवाल है तो आप हमें नीचे कमेंट बॉक्स में लिखकर पूछ सकते हैं।

यह भी जरूर पढ़े: DIG Kya Hota Hai

दिन प्रतिदिन शिक्षा का महत्व बढ़ रहा है इसलिए आपको शिक्षा ग्रहण करने पर ध्यान देना चाहिए और यदि आप अपना भविष्य उज्जवल बनाना चाहते हैं तो आपको ग्रेजुएशन तक की पढ़ाई अवश्य करनी चाहिए। दोस्तों हम आपसे आगरा करते हैं कि आप हमारी इस जानकारी को अपने फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर करें ताकि अधिक से अधिक लोगों को ग्रेजुएशन की महत्वता का पता चल सके। धन्यवाद 

1 thought on “Graduation और Post Graduate Kya Hota Hai”

Leave a Comment

error: जानकारी सुरक्षित है