होम » शिक्षा » ओजोन स्तर का क्या महत्व है और यह मानव जीवन के लिए क्यों जरूरी है?

ओजोन स्तर का क्या महत्व है और यह मानव जीवन के लिए क्यों जरूरी है?

पृथ्वी पर जीवन का बीज ही ओजन परत है इसलिए आज हम जानेंगे ओजोन स्तर का क्या महत्व है? (Ozone Star Ka Kya Mahatva Hai) और इसके क्या क्या गुण हैं जिससे यह इतना खास हो जाता है।

ozone star ka kya mahatva hai

हमें स्कूल से लेकर कॉलेज तक ओजन स्तर के बारे में पढ़ाया जाता है और उस का महत्व क्या है यह बताया जाता है क्योंकि यह हमारे जीवन के सुरक्षा के लिए एक प्रतिरोधक का काम करता है।

हम ओजोन स्तर का क्या महत्व है? यह जानने से पहले थोड़ा इसके बारे में जान लेते हैं की ओजोन परत क्या है और ओजोन स्तर का गुण क्या है?

ओजोन स्तर क्या है?

ओजोन स्तर एक गैसीय परत है, जिसमें ओजोन गैस की मात्रा अत्यधिक मात्रा में पाई जाती है तथा यह ओजोन स्तर पृथ्वी की सतह से 15 किलोमीटर से 35 किलोमीटर में पाई जाती है जो सूर्य की पराबैंगनी किरणों को सोख लेता है और पृथ्वी तक सुरक्षित किरणों को पहुंचाता है।

ओजोन स्तर को ओजोन मंडल भी कहते हैं जो हमारे पृथ्वी के वायुमंडल में स्थित है।

ओजोन स्तर के गुण

  • ओजोन अपने शुद्धतम रूप में ओजोन नीला होता है।
  • सीमित मामलों में इसकी सुखद गंध भी हो सकती है जो अच्छी खुशबू देती है।
  • ओजोन स्तर पराबैंगनी क्षेत्र में स्थित यूवी (UV)  किरणों को अवशोषित कर लेता है, जो कि 220-290 nm और वायुमंडलीय स्पेक्ट्रम के बीच है।
  • ऑक्सीजन का यह रूप 161.2K पर उबलता है। 
  • ओजोन के जमने पर यह बैंगनी-नीले क्रिस्टल बनाता है
  • यह ऑक्सीकरण एजेंट के रूप में कार्य करता है क्योंकि ओजोन, जो सामान्य परिस्थितियों में एक अस्थिर यौगिक है, नवजात ऑक्सीजन या ऑक्सीजन के अणु बनाने के लिए गर्मी की उपस्थिति में तेजी से विघटित होता है।

यह भी पढ़ें: साबुन की परिभाषा क्या है? साबुन कैसे काम करता है? साबुन का इतिहास

अबतक हमने ओजोन स्तर क्या है और ओजोन गैस के गुणों को समझा है अब हम जानेंगे ओजोन स्तर का क्या महत्व है? (Ozone Star Ka Kya Mahatva Hai)

ओजोन स्तर का क्या महत्व है? (Ozone Star Ka Kya Mahatva Hai)

ozone star ka kya mahatva hai

ओजोन स्तर सूर्य की हानिकारक पराबैगनी किरणों से पृथ्वी की रक्षा करती है इसलिए यह हमारे लिए अत्यधिक महत्वपूर्ण बन जाती है, ओजोन स्तर के बिना पृथ्वी पर जीवन की कल्पना करना असंभव है

सूर्य के द्वारा छोड़े गए हानिकारक पराबैंगनी किरणें मनुष्य के त्वचा में कार्सिनोमा का कारण बन सकती है साथ ही यह पराबैगनी किरणे पौधों के लिए भी बहुत हानिकारक है, इसलिए ओजोन स्तर का महत्व हमारे लिए बहुत ज्यादा है क्योंकि यह पराबैंगनी किरणों को पृथ्वी पर आने से रोकता है।

 यदि ओजोन स्तर कमजोर हो जाती है तो सूर्य की हानिकारक पराबैंगनी किरणें मनुष्य में त्वचा कैंसर, मोतियाबिंद, बिगड़ा हुआ दृष्टि और पौधे रहित पृथ्वी का निर्माण करेगी जो आम जीवन के विपरीत है।

ओजोन स्तर का महत्व इसलिए भी बढ़ ज्यादा बढ़ जाता है क्योंकि यह हमारी पृथ्वी के पर्यावरण में उपस्थित तापक्रम को सामान्य रखता है

यह विपरीत रूप से हमारे पृथ्वी पर मौजूद ग्लेशियर को गलने से भी रोकता है जो अत्यधिक महत्वपूर्ण विषय है, क्योंकि यदि ग्लेशियर पिघल गया तो हमारे पृथ्वी पर बाढ़ आ जाएगी।

यह भी पढ़े: हमारे दैनिक जीवन में Ph का महत्व

क्या ओजोन स्तर का महत्व हानिकारक है?

यह अपने स्थान के आधार पर या तो पृथ्वी की रक्षा कर सकता है या नुकसान पहुंचा सकता है, ओजोन पृथ्वी की रक्षा करेगा यदि यह समताप मंडल में है।

पृथ्वी की सतह से लगभग 10 किमी दूर क्षोभमंडल में पाए जाने पर ओजोन हानिकारक हो सकती है क्योंकि ओजोन एक प्रदूषक है।

ओजोन स्तर के नुकसान का मुख्य कारण ओजोन क्षयकारी पदार्थों (ODS) का अत्यधिक उपयोग है।

यह ओजोन-क्षयकारी रसायनों में शामिल हैं:

  • सीएफ़सी (CFC):  ओजोन स्तर के नुकसान के प्रमुख कारणों में से एक क्लोरोफ्लोरोकार्बन का उपयोग है। सीएफ़सी का उपयोग रेफ्रिजरेटर और कार एयर कंडीशनर को ठंडा करने के लिए किया जाता है। इसका उपयोग फोम उत्पादों के निर्माण के साथ-साथ अस्पतालों के लिए एक नसबंदी उपकरण में भी किया जाता है।
  • मिथाइल क्लोरोफॉर्म का उपयोग अन्य चीजों के अलावा रासायनिक प्रसंस्करण उद्योगों में किया जाता है।
  • कार्बन टेट्राक्लोराइड एक विलायक है।

यह भी पढ़ें: B Pharma Course क्या होता है और कैसे करे?

यदि ओजोन स्तर के संतुलन में गड़बड़ी होती है तो यह मानव जीवन पर सीधा प्रभाव पड़ेगा जिससे फेफड़े के उत्तर और पौधों का नाश हो सकता है।

प्रश्न और उत्तर

ओजोन स्तर क्या होता है?

ओजोन स्तर एक गैस स्तर है जो हमारी पृथ्वी के वायुमंडल में पाई जाती है यह हमारी पृथ्वी को सूर्य की पराबैंगनी किरणों से बचाती है जिससे पृथ्वी पर जीवन की उपस्थिति संभव हो पाती है।

ओजोन स्तर का क्या महत्व है?

सूर्य की पराबैंगनी किरणों को पृथ्वी पर आने से ओजोन स्तर बचाती है जिससे पृथ्वी पर जीवन संभव हो पाता है।

ओजोन परत की खोज सबसे पहले किसने की थी?

एक फ्रांसीसी भौतिक विज्ञानी चार्ल्स फैब्री और हेनरी बुइसन ने 1913 में ओजोन परत की खोज की थी। 

ओजोन का निर्माण कैसे होता है?

वायुमंडल में ओजोन का निर्माण तब होता है जब सूर्य की किरणों से ऑक्सीजन के अणु एकल परमाणुओं में विभाजित हो जाते हैं, इन एकल परमाणुओं को ओजोन बनाने के लिए आस-पास ऑक्सीजन के साथ जोड़ा जाता है।

यह भी पढ़ें:

निष्कर्ष

ओजोन स्तर हमारे जीवन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है इसके बिना पृथ्वी पर जीवन असंभव हो जाएगा इसलिए हमें ओजोन स्तर को मजबूत बनाए रखने के लिए कार्बन का उत्सर्जन नहीं करना चाहिए।

हमें आशा है कि आप को ओजोन स्तर का क्या महत्व है? (Ozone Star Ka Kya Mahatva Hai) ओजोन स्तर के गुण तथा ओजोन स्तर क्या होता है? के ऊपर यह जानकारी आपको अच्छी लगी होगी।

जानकारी मददगार और अच्छी लगी हो तो कृपया इस जानकारी को अपने दोस्तों के साथ नीचे दिए गए फेसबुक और व्हाट्सएप के बटन के माध्यम से शेयर करें।

यदि आपके मन में ओजोन स्तर से जुड़ी हुई कोई भी प्रश्न हो तो आप हमें नीचे कमेंट बॉक्स में लिखकर बता सकते हैं।

रोजाना इसी प्रकार की रोचक जानकारियों को पढ़ने के लिए आप हमारे वेबसाइट को सब्सक्राइब भी कर सकते हैं।

1 thought on “ओजोन स्तर का क्या महत्व है और यह मानव जीवन के लिए क्यों जरूरी है?”

Leave a Comment

error: जानकारी सुरक्षित है